Personalized
Horoscope

मंगल का सिंह राशि में गोचर (सितम्बर 15 - नवंबर 3, 2015)

सितम्बर 15, 2015 को मंगल ग्रह सिंह में प्रवेश करेगा। मंगल ग्रह का यह गोचर सभी राशियों के लिए बहुत अधिक प्रभावी होगा। पर क्या होंगे इसके आपकी राशि पर प्रभाव? आइये जानें हमारे ज्योतिषी “आचार्य रमन” द्वारा लिखे मंगल के सिंह राशि में गोचर के इस लेख के साथ।

 Janein mangak ke singh rashi me pravesh karne se kya honge apki rashi par prabhav.

15 सितम्बर को मंगल सूर्य की दग्ध राशि सिंह में आएगा। मंगल स्वयं में एक क्रूर ग्रह है और अग्नितत्व राशि में आने पर उसका व्यवहार उग्र रूप लेगा। लोगों में अहम की वृद्धि के साथ कामेच्छा की भी वृद्धि होगी और अनैतिक मार्ग को भी बहुत से लोग अपना सकते हैं। सिंह कालपुरुष की कुंडली में पंचम भाव में आती है और सूर्य उसका अधिपति है। अतः लोगों में मनोरंजन, विनोद आदि के लिए भी इच्छा जाग्रत होगी।

यदि आपकी मंगल की प्रत्यंतर दशा चल रही है तो आपको इसके प्रभावों की सर्वाधिक अनुभूति हो सकती है।

अपनी लग्न राशि ज्ञात करने हेतु क्लिक करें: लग्न राशि कैलकुलेटर

Click here to read in English…

आइये देखते हैं आपकी राशि के ऊपर इसके क्या परिणाम हो सकते हैं :

मेष

Ariana Grande

सिंह में मंगल आपके लिए ऊर्जा तो प्रदान करेगा, किन्तु आपकी क्षमता से अधिक। आप वैसे भी उग्र व्यक्ति हैं, अगर शुक्र के नक्षत्र के अलावा जन्मे हैं। यह ऊर्जा स्वयं को परिभाषित और प्रतिपादित करेगी आपके संतान, आमोद प्रमोद, क्रिया-कलापों को लेकर। यह भी संभव है कि आपकी संतान को आपके द्वारा ही हानि उठानी पड़ जाए। प्रेम सम्बन्ध में भी आपका आवेग हानि का ही कारण बनेगा। धन का व्यय सुख उपभोग पर करेंगे और कुछ नया खरीद भी सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर भी शिकायत बनी रह सकती है।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: मेष राशि

वृषभ

Hamsa Nandini

मंगल आपके दशम, सप्तम और लाभ को देखेगा, घर के लोगों के बीच कुछ कहासुनी हो सकती है। किन्तु यह गोचर आपको आगे बढ़ने और कार्यस्थल पर अपनी काबिलियत सिद्ध करने के बहुत मौके देगा और आप दूसरों से अच्छा प्रदर्शन करेंगे। वृश्चिक उसकी स्वयं की ही राशि है अतः निजी जीवन में आपको सुखद अनुभव ही रहने वाला है और लाभ के भी अच्छे अवसर आपको मिलेंगे। आपको अपने व्यय पर नियंत्रण रखना है और अपने रक्तचाप और ह्रदय की गतिविधियों पर भी ध्यान देना है। व्यर्थ के तनाव से बचने की कोशिश कीजिये।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: वृषभ राशि

मिथुन

Kulraj Randhawa

नौकरी में आपकी सम्प्रेषण को सराहा जाएगा, आपमें अधिक ऊर्जा संचारित होगी और दूसरों के लिए आप उदाहरण स्वरुप सिद्ध हो सकते हैं। आपसे ईर्ष्या रखने वाले लोगों को आप अपने वाक्चातुर्य से पीछे करेंगे और लोग आपके हास्य व्यंग्य से सभी बहुत प्रसन्न होंगे। किन्तु आपको यह ध्यान रखना है कि आप किसीको शब्दों द्वारा द्रवित न करें अन्यथा आपकी कला का दुरूपयोग भी होगा और आपकी छवि भी खराब होगी। भाग्य ठीक ही बना रहेगा, काम काज व्यापार की स्थिति भी सामान्य ही रहेगी।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: मिथुन राशि

कर्क

Ashwini Kalsekar

धन भाव में दशमेश हमेशा ही शुभ होता है अतः धन लाभ आपको आपके परिश्रम से ही आएगा और आपकी निजी ज़िन्दगी भी अच्छी बनी रहेगी। आपके प्रेम प्रसंग भी आपके लिए आनंदपूर्ण रहेंगे। व्यापारी बंधुओं को अच्छा लाभ होगा, ज़मीन के व्यवसाइयों को भी मुनाफा मिलेगा। भाग्य थोड़ा सा आपको दुखी करेगा किन्तु अधिक नहीं। वाहन आदि चलाते समय पूर्ण सावधानी रखें। मित्रों से आपको लाभ होने के बहुत योग हैं। इसका फ़ायदा लीजिये। नयी चीज़ें ख़रीद सकते हैं।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: कर्क राशि

सिंह

Divyanka Tripathi

भाग्येश लग्न में जाए तो अच्छा ही करता है, किन्तु मंगल की सप्तम दृष्टि शनि के घर कुम्भ पर भी जायेगी अतः विवाहित जीवन में बुरा असर पड़ेगा। आपको ही इसके प्रभावों को शून्य करना होगा अपने आप पर नियंत्रण करके। आपके क्रोध अहंकार को नमस्ते कह देना ही विवाहित जीवन के लिए सबसे अच्छा रहने वाला है। आपको सर में दर्द की शिकायत होगी और आँखों में भी जलन और दर्द हो सकता है। सामान्य ज्वर आ सकता है। खानपान संयमित रखिये और मदिरा आदि मादक द्रव्यों और पदार्थों से दूर रहिये।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: सिंह राशि

कन्या

Deeksha seth

सप्तम भाव पर मंगल की अष्टम दृष्टि जायेगी और आपके लिए मंगल स्वयं अष्टमेश ही है। कोई महिला मित्र द्वारा आपका कोई रुका हुआ काम बन सकता है। विवाहित जीवन को जितना हो सके सुगम बनाये रखिये और व्यर्थ के झंझट मोल मत लीजिये, नुक्सान आपका ही होना है और किसी का नहीं। दुर्घटना से देर भली, यह वाक्य ध्यान रखिये जब भी आप सड़क पर हों वाहन से अथवा पैदल। भाइयों से कोई विवाद हो सकता है, पास पड़ोस के लोगों से भी अपना व्यवहार ठीक रखिये।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: कन्या राशि

तुला

Ankita Lokhande

मित्र लोगों से आपको पूर्ण सहयोग मिलना है, किसी विपरीत लिंगी मित्र से नज़दीकयाँ बढ़ सकती हैं और आपको शैय्या सुख भी मिल सकता है। धन लाभ होगा और आपके बहुत से कार्य भी संपन्न होंगे। आपके लिए यह अच्छा गोचर है। किसी के विरुद्ध कोई गुप्त कार्य आप कर सकते हैं, स्वास्थ्य में थोड़ी कमी आएगी किन्तु वह कोई गंभीर बात नहीं रहेगी। संतान पक्ष से कोई परेशानी हो सकती है, अतः सावधान रहना आवश्यक है। कुल-मिलाकर आपको लाभ के अधिक योग हैं अतः इसका आनंद लीजिए।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: तुला राशि

वृश्चिक

Irfaan Khan

लग्नेश दशम में तो बहुत शुभ होता है, यह साथ में षष्ठेश भी है अतः आपकी नौकरी के लिए बहुत ही शुभ है। मंगल की दृष्टि लग्न पर भी है चतुर्थ पर भी और पंचम पर भी अतः आपको आशातीत सफलता मिलनी ही है। जो लोग भारी मशीनरी, ज़मीन, बड़े ठेके आदि के व्यवसाय में हैं उनको बहुत लाभ होगा। निजी जीवन में अशांति रहेगी और इस कारण आपको कुछ मानसिक परेशानी उभर सकती है। कार्यस्थल पर भी आपकी किसी से बहस हो सकती है।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: वृश्चिक राशि

धनु

Harman Baweja

पंचमेश के परिणाम ही यह मंगल आपको प्रमुखता से देने वाला है और यह आपके लिए अच्छा भी है। द्वादश भाव के स्वामी अपनी दूसरी राशि का फल प्रमुखता से देते हैं। आपके लिए यह समय मानसिक शांति देने वाला रहेगा। मित्र लोगों से आपकी बनेगी और वे आपके काम भी आएंगे। किसी बड़े समझौते को पूर्ण करने की दिशा में आप आगे बढ़ सकते हैं। आपकी ही कोशिशों द्वारा यह कार्य अपने अंजाम तक पहुंचेगा।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: धनु राशि

मकर

Hina Khan

इस घर में मंगल बहुत शुभ फलदायी नहीं होता किन्तु आपके लिए लाभेश होकर यह अष्टम भाव में गोचर में आ रहा है तो आपको लाभ देकर जाएगा। आपको फायदा हो सकता है पुराने मित्रों से जिनसे आप बहुत समय से मिले नहीं हैं। पुराने कागज़ातों को टटोल कर देखिये - शायद उनमें आपके काम का कुछ रखा हुआ हो और आप भूल चुके हों जैसे कोई पॉलिसी वगेरह, किन्तु साथ ही आपको स्वास्थ्य का ध्यान तो रखना ही है वाहन आदि चलाते समय भी सावधान रहना है। ज़मीन से जुड़े कोई मसले हों तो उनका निपटारा आपके पक्ष में करने के लिए अभी वक़्त नहीं है।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: मकर राशि

कुम्भ

Aditi Sharma

मंगल सप्तम भाव में अच्छा नहीं माना गया है, गोचर हो या जन्म से, अतः आपके विवाहित जीवन में समस्या आ सकती है और यदि आपका साझेदारी में व्यापार चल रहा है तो अपने साझेदार के साथ भी मतभेद हो सकते हैं। यह निर्णय आपको करना है कि आप कैसे इस मंगल को देखते हैं। यदि आप इसके बहाव में आ गए तो अपना ही नुक्सान कर लेंगे और फिर आप किसी और के ऊपर तोहमत नहीं लगा सकते। कामकाज अच्छा रहेगा क्योंकि दशमेश की दृष्टि दशम पर रहेगी अतः उस आयाम से आपको कोई हानि नहीं है।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: कुम्भ राशि

मीन

anita hassanandani

आपके न चाहने वालों के लिए यह अशुभ संकेत है। उनके ज़ोर आज़माइश के बाद भी आपका वे कुछ नहीं बिगाड़ पाएंगे। आपके खान-पान में मसालेदार और स्वादिष्ट चीज़ों का मिश्रण होता जायगा और आपको भूख भी अच्छी लगेगी। आपकी खुराक थोड़ी अधिक हो सकती है। क्रोध भी अधिक आएगा - मंगल की अष्टम दृष्टि लग्न पर आएगी। भाग्य भी आपका साथ देगा क्योंकि नवमाधिपति अपने घर को देखेगा। अतः आनंद लीजिये।

अपनी राशि के बारे में अधिक जानने के लिए क्लिक करें: मीन राशि

आचार्य रमन

2017 गोचर

मंगल का मकर में गोचर मंगल वृश्चिक में वक्री मंगल का वृश्चिक में गोचर मंगल का तुला राशि में गोचर मंगल का कन्या में गोचर मंगल का सिंह राशि में गोचर मंगल अस्त मेष राशि में मंगल का मेष में गोचर मंगल का मीन में गोचर मंगल का मिथुन में गोचर मंगल का वृषभ में गोचर मंगल का वृषभ में गोचर मंगल का गोचर कुम्भ राशि में शनि वृश्चिक में अस्त शनि वक्री वृश्चिक में वृश्चिक राशि में शनि उदय सूर्य का तुला राशि में गोचर सूर्य का मीन में गोचर सूर्य का कुम्भ में गोचर सूर्य का मकर में गोचर सूर्य का धनु राशि में गोचर सूर्य का वृश्चिक राशि में गोचर सूर्य का कन्या राशि में गोचर सूर्य का सिंह राशि में गोचर सूर्य का कर्क में गोचर सूर्य का मिथुन में गोचर सूर्य का वृषभ में गोचर सूर्य का मेष में गोचर सूर्य का वृषभ में गोचर सूर्य का मिथुन में गोचर
धनु राशि में शुक्र का गोचर शुक्र का वृश्चिक में गोचर शुक्र का कन्या में गोचर शुक्र कर्क में मार्गी शुक्र का मीन में गोचर शुक्र का कुम्भ में गोचर शुक्र का मकर में गोचर शुक्र मेष में अस्त शुक्र का वृश्चिक में गोचर शुक्र का तुला में गोचर मंगल का कर्क में गोचर अस्त शुक्र का कर्क में गोचर शुक्र सिंह राशि में वक्री शुक्र का वृषभ में गोचर शुक्र का मेष में गोचर शुक्र का सिंह में गोचर शुक्र का मिथुन में गोचर शुक्र का कर्क में गोचर शुक्र का मिथुन में गोचर शुक्र का वृषभ में गोचर शुक्र का वृश्चिक में गोचर वृश्चिक राशि में शुक्र उदय गुरु कन्या राशि में वक्री गुरु का सिंह में गोचर गुरु सिंह राशि में अस्त गुरु कर्क राशि में मार्गी कर्क राशि में बृहस्पति वक्री गुरु कर्क राशि में मार्गी शनि धनु राशि में वक्री

AstroSage on MobileAll Mobile Apps

AstroSage TVSubscribe

Buy Gemstones

Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com

Buy Yantras

Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com

Buy Navagrah Yantras

Yantra to pacify planets and have a happy life .. get from AstroSage.com

Buy Rudraksh

Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com

Reports

FREE Matrimony - Shaadi