Personalized
Horoscope
  • Raj Yoga Reort
  • AstroSage Big Horoscope
  • Kp System Astrologer

मंगल का मकर राशि में गोचर- 2 मई 2018

वैदिक ज्योतिष और पुराणों में मंगल ग्रह की पूजा की बड़ी महिमा बताई गई है। मंगल की उपासना और पाठ करने से ऋण से मुक्ति मिलती है। ज्योतिष शास्त्र में मंगल को अशुभ ग्रह माना गया है हालांकि ये प्रसन्न होकर मनुष्य की हर प्रकार की इच्छा पूर्ण करते हैं। मंगल ग्रह की शांति के लिए शिव उपासना और मूंगा रत्न धारण करने का विधान है। मंगल ग्रह की शांति के लिए मंगलवार का व्रत और हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। मंगल की महादशा 7 वर्ष तक रहती है। यह मेष और वृश्चिक राशि के स्वामी हैं। मकर राशि में इन्हें उच्च प्रभाव देने वाला माना गया है।

मंगल का मकर राशि में गोचर

मंगल ग्रह 2 मई 2018, बुधवार को 16:49 बजे मकर राशि में गोचर करेंगे और 6 नवंबर तक इसी राशि में स्थित रहेंगे। मंगल के इस गोचर का प्रभाव सभी राशियों पर होगा। आईये जानते हैं आपकी राशि के अनुसार आपके जीवन पर क्या होगा मंगल के इस गोचर का असर?

Click here to read in English

यह राशिफल चंद्र राशि पर आधारित है। चंद्र राशि कैल्कुलेटर से जानें अपनी चंद्र राशि

मेष

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में दसवें भाव में रहेगा। अत: आपको शुभ समाचार मिलेंगे। आपके व्यावापर व्यवसाय में विस्तार होगा। यदि कोई जमीनी विवाद है तो वह दूर होगा। कोई नया काम शुरू करना चाह रहे हैं तो उसके लिए भी समय मददगार होगा।

वृषभ

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में नौवें भाव में रहेगा। सुदूर स्थलों तक की गई लम्बी यात्राएं सफल होंगी। धर्म-कर्म की ओर मन आकृष्ट होगा। जीवनसाथी के प्रगतिशील होने के भी योग हैं। यदि आपने काम का सम्बन्ध विदेश से है तो समय और भी अनुकूल रहेगा।

मिथुन

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में आठवें भाव में रहेगा। हालांकि यह गोचर स्वास्थ्य के लिए कम अनुकूल है अतः आपको अपने स्वास्थ्य का खयाल रखना ज़रूरी होगा लेकिन कई मामलों में लाभ का प्रतिशत बढ़ सकता है। धन, वाणी व परिवार का ख्याल रखें।


मंगल ग्रह के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए स्थापित करें: मंगल यंत्र

कर्क

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में सातवें भाव में रहेगा। मंगल की यह स्थिति मिश्रित परिणाम देगी काम धंधे और संतान के लिए काफी अनुकूल परिणाम मिलेंगे। प्रेम संबंधों के लिए भी समय अच्छा है, लेकिन यदि विवाहित हैं तो आपसी लड़ाई झगड़े से बचना होगा।

सिंह

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में छठवें भाव में रहेगा। इस अवधि में दूर की यात्राओं के दौरान कुछ कठिनाई रह सकती है। घरेलू जीवन व वैवाहिक जीवन में भी कुछ असंतोष रह सकता है, लेकिन ऐसे काम जिनमे कम्पटीशन हो उसके लिए समय काफी अनुकूल है।

कन्या

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में पांचवें भाव में रहेगा। इस अवधि में कम दूरी की कई यात्राएं करनी पड़ सकती है लेकिन दूर की यात्राओं से बचना बेहतर रहेगा। भाई बंधु मददगार होंगे। इस समय प्रेम प्रसंगों में मर्यादा रखें। संतान के स्वास्थ्य का भी ख़याल रखें।


जानें क्या आपकी कुंडली में भी है मांगलिक दोष: मंगल दोष

तुला

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में चौथे भाव में रहेगा। यह ग्रह परिवर्तन आपके लिए शुभ है। आर्थिक मामलों में बेहतरी आने के योग हैं लेकिन वाणी में आ रहे आक्रोश व घरेलू विसंगतियों को रोकने की कोशिश करें। काम धंधे व जीवन साथी के उत्थान के योग बन रहे हैं।

वृश्चिक

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में तीसरे भाव में रहेगा। स्वाभाविक है आपको अच्छे फल मिलेंगे। आपका उत्साह बेहतर होगा। भाई बंधु मददगार होंगे। मान-सम्मान बढ़ने के भी योग हैं लेकिन कुछ मित्र नाराज हो सकते हैं अथवा कोई विरोधी मित्र बनने का प्रयास करेगा।

धनु

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में दूसरे भाव में रहेगा। कुछ खर्चे अचानक सामने आ सकते हैं। इस समय वाणी पर भी बड़ा संयम रखना होगा। परिवार के सदस्यों के कारण भी तनाव सम्भव है। मामला प्रेम सम्बन्ध का हो या पुत्र सम्बन्ध का दोनों रिश्तों को प्यार से निभाएं।


शादी में हो रही देरी से हैं परेशान, अवश्य करें: शीघ्र विवाह के उपाय

मकर

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में प्रथम भाव में रहेगा। ऐसे में यदि आपने स्वास्थ्य और क्रोध को साध लिया तो बाकी सब ठीक रहेगा। वाहन भी सावधानी से चलाएं। बाकी आपकी मान प्रतिष्ठा बढ़ेगी साथ ही भूमि या भवन खरीदने के योग बनेंगे। साझेदारी के काम में लाभ होगा।

कुंभ

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में बारहवें भाव में रहेगा। अत: इस अवधि में सावधानी की ज़रूरत रहेगी। बेकार के खर्चे रह सकते हैं। इस समय आत्मनिर्भर रहना बहुत ज़रूरी होगा। हालांकि यदि आपका काम विदेश से सम्बंधित है तो उसमें लाभ मिलेगा। छोटी यात्राएँ भी संभावित हैं।

मीन

मंगल का गोचर आपकी कुंडली में ग्यारहवें भाव में रहेगा। अतः आर्थिक मामलों में मजबूती आएगी। मित्रों और सहयोगियों से लाभ मिलेगा। भाग्य साथ देगा। बहु प्रतीक्षित इच्छाओं की पूर्ति होगी। दूर की यात्राएँ भाग्यशाली सिद्ध होंगी। पारिवारिक वातावरण सुखद रहेगा।

2017 गोचर

मंगल का मकर में गोचर मंगल वृश्चिक में वक्री मंगल का वृश्चिक में गोचर मंगल का तुला राशि में गोचर मंगल का कन्या में गोचर मंगल का सिंह राशि में गोचर मंगल अस्त मेष राशि में मंगल का मेष में गोचर मंगल का मीन में गोचर मंगल का मिथुन में गोचर मंगल का वृषभ में गोचर मंगल का वृषभ में गोचर मंगल का गोचर कुम्भ राशि में शनि वृश्चिक में अस्त शनि वक्री वृश्चिक में वृश्चिक राशि में शनि उदय सूर्य का तुला राशि में गोचर सूर्य का मीन में गोचर सूर्य का कुम्भ में गोचर सूर्य का मकर में गोचर सूर्य का धनु राशि में गोचर सूर्य का वृश्चिक राशि में गोचर सूर्य का कन्या राशि में गोचर सूर्य का सिंह राशि में गोचर सूर्य का कर्क में गोचर सूर्य का मिथुन में गोचर सूर्य का वृषभ में गोचर सूर्य का मेष में गोचर सूर्य का वृषभ में गोचर सूर्य का मिथुन में गोचर
धनु राशि में शुक्र का गोचर शुक्र का वृश्चिक में गोचर शुक्र का कन्या में गोचर शुक्र कर्क में मार्गी शुक्र का मीन में गोचर शुक्र का कुम्भ में गोचर शुक्र का मकर में गोचर शुक्र मेष में अस्त शुक्र का वृश्चिक में गोचर शुक्र का तुला में गोचर मंगल का कर्क में गोचर अस्त शुक्र का कर्क में गोचर शुक्र सिंह राशि में वक्री शुक्र का वृषभ में गोचर शुक्र का मेष में गोचर शुक्र का सिंह में गोचर शुक्र का मिथुन में गोचर शुक्र का कर्क में गोचर शुक्र का मिथुन में गोचर शुक्र का वृषभ में गोचर शुक्र का वृश्चिक में गोचर वृश्चिक राशि में शुक्र उदय गुरु कन्या राशि में वक्री गुरु का सिंह में गोचर गुरु सिंह राशि में अस्त गुरु कर्क राशि में मार्गी कर्क राशि में बृहस्पति वक्री गुरु कर्क राशि में मार्गी शनि धनु राशि में वक्री

Buy Your Big Horoscope

100+ pages @ Rs. 650/-

Big horoscope

AstroSage on MobileAll Mobile Apps

AstroSage TVSubscribe

Buy Gemstones

Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com

Buy Yantras

Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com

Buy Feng Shui

Bring Good Luck to your Place with Feng Shui.from AstroSage.com

Buy Rudraksh

Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com

Reports