Personalized
Horoscope
  • AstroSage Brihat Horoscope
  • AstroSage Big Horoscope
  • Ask A Question
  • Raj Yoga Report
  • Career Counseling

ज्योतिष क्विज़ 14: क्या है जातक का रोग?

मित्रों, एक बार फ़िर से हम हाज़िर हैं एस्ट्रोसेज क्विज़ 14 के साथ। इस क्विज़ में भाग लेकर दीजिये अपनी क़िस्मत को मौका विजेता का ख़िताब जीतने का। और हाँ, अपना नाम देखना मत भूलिएगा 'एस्ट्रोसेज क्विज़ हॉल ऑफ़ फ़ेम' में।

AstroSage’s astrology quiz is a good astrology practice session.

ज्योतिष क्विज़ 14:

2007 के आस पास से जातिका एक बीमारी से ग्रस्त है, वह कौन सी बीमारी हो सकती है? ज्योतिषीय कारण सहित बताएं!!

उत्तर विकल्प:

  • (A) पीठ दर्द
  • (B) लीवर की खराबी
  • (C) गुप्त रोग
  • (D) रक्त चाप

Click here to read in English...

जातिका का जन्म विवरण:

  • लिंग: महिला
  • जन्म तिथि: 30 दिसंबर , 1985
  • जन्म समय: 05:30
  • जन्म स्थान: डभौरा, म.प्र., भारत
  • देशान्तर (Longitude): 81:19 E
  • अक्षांश (Latitude): 25:09 N

कुण्डली

Astrology quiz14 birthchart for north in hindi
Astrology quiz14 birthchart for south in hindi

कुण्डली का पूरा विवरण देखने के लिए दिए हुए लिंक पर जाइये - - http://k.astrosage.com/quiz14

नियम और शर्तें

  1. कृपया अपने उत्तर के साथ ज्योतिषीय विश्लेषण अवश्य दीजिए। बिना विश्लेषण के उत्तर मान्य नहीं होंगे।
  2. केवल मई १९, २०१४ तक ही उत्तर ही मान्य होंगे।
  3. क्विज़ का परिणाम मई २०, २०१४ को घोषित किया जाएगा।
  4. उत्तर देने के लिए आप या तो नीचे “कमेंट बॉक्स” का उपयोग कर सकते हैं या फिर हमें quiz@astrosage.com पर विश्लेषण सहित उत्तर भेज सकते हैं।
  5. एक से अधिक विजेता होने की सूरत में किसी भी एक को पुरस्कार के लिए यादृच्छिक (रेंडम) तरीक़े से चुना जाएगा। किन्तु सभी सही उत्तर देने वाले प्रतिभागियों का नाम एस्ट्रोसेज क्विज़ हॉल ऑफ़ फ़ेम में सम्मिलित किया जाएगा।

क्विज़ #14 का परिणाम

एस्ट्रोसेज.कॉम ने अपने क्विज़ सेक्शन में चौदहवें क्विज में आपसे एक ज्योतिषीय सवाल पूछा था। जिसमें आपको एक जन्म विवरण देते हुए आपसे पूछा गया था कि: 2007 के आस पास से जातिका एक बीमारी से ग्रस्त है, वह कौन सी बीमारी हो सकती है? ज्योतिषीय कारण सहित बताएं!

सही जबाब है ऑप्शन (C) - गुप्त रोग

कई जानकारों ने सटीक उत्तर दिए लेकिन तीन लोगों ने कारण सहित सही उत्तर दिया, उनके नाम हैं निखिल सैनी, जतिंदर संधु, कीर्तन कुमार नेहेन्नी, ललित शर्मा, जतिंदर मोदी, सी. एस. यादव, रसज्ञ, अनीता शर्मा और आर वी अस ऍन सरमा.

सर्वश्रेष्ठ उत्तर

इस बार सभी लोगों ने नियमबद्ध तरीके से उत्तर दिया है लेकिन उनमें से किसी एक को सर्वश्रेष्ठ उत्तर देने वाले का खिताब देना होता है, और इस बार का यह खिताब जाता है “निखिल सैनी” जी को।

इन्होंने जो उत्तर दिया है वह इस प्रकार है:

The kundli of the native shows many afflictions:

1) lord of the sixth house (Mangal) is in Tula (Rashi of Shukra) under the malefic influence of Ketu in the Swati Nakshatra (ruled by Rahu), Mangal aspects Rahu placed in sixth house of the Lagna chart.

2) Tula falls in the 7th house of the natural zodiac. It deals with sexual relationships, carnal desires and pleasures, inner sexual organs (uterus, bladder etc.). Tula Rashi is under malefic influence of Mangal Ketu Yuti.

3) 8th house of the natural zodiac ( Kalpurush Kundli) is Vrishchik (Scorpion). It falls in the Lagna of the native. Mercury and Saturn are present in Scorpion (a malefic combination). Budh is the lord of the 8th house of the native and it is present in the Lagna (and also in the Lagna of the Chalit Kundli). Lagna is the sixth house (Roga Bhava) from the 8th house. Issues pertaining to external genitals are correlated from the 8th house. Mangal that naturally rules 8th Bhava and rules matters related to blood, muscles, genitals is present in the 12th house from Scorpion (Lagna).

4) In the Navmansha Kundli also, Mercury is the lord of 8th house (Virgo) is present in the Navmansha Lagna along with Mars.

5) Jupiter is also severely afflicted in the chart. It is in Neecha Rashi (Capricorn). It is harshly aspected by Mangal (4th aspect) and Shani (3rd aspect). It is also aspected by Moon from ninth house (7th aspect). Guru is in Dhanishtha Nakshatra (it represents pubic and anal region). Guru is situated in the 3rd house, that is 8th from 8th (Bhavat Bhavam rule). This also indicates something wrong regarding private parts of the native.

6) In the Chandra Kundli, 7th house is occupied by debilitated Guru and aspected by 8th Lord Shani.

During the Mahadasha of Ketu, Antardasha of Mangal (3/2007) native is likely to suffer from sexual disorders.

Hence, I feel option C (sexual disorder) is correct.

Possibility for other options:

a) High blood pressure: Conditions of high blood pressure arises in the chart when weak Moon and strong Mars are afflicted in the chart. In the chart of the native Moon is free from affliction and placed in own house in pious Pushya Nakshatra aspected by weak Guru (this aspect is favourable but weak). Mangal is afflicted by Ketu Yuti in 12th house. Lagna is in Paap Kartari Yog( Surya - Mangal on sides of Lagna). Two water signs are afflicted i.e, Scorpion due to Budh Shani Yuti and Meen Rashi due to weak and afflicted Lord Guru.

b) Liver malfunction: According to medical astrology, Jupiter signifies liver and other digestive organs (owing the Karakatwa of 5th house). In the Kundli, 5th house Lord Jupiter is weak and aspected by Shani and Mangal. The matters of 5th house are harmed under such combination. In Chandra Kundli also 5th house is occupied by 12th and 3rd Lord Budh and 7th, 8th Lord Saturn. In Chandra Kundli lord of 5th house Mangal is in 12th house from 5th, i.e, in the 4th house and afflicted by Ketu.

In Chalit Kundli also, Rahu is present in 5th house aspected by Mars from 11th house.

c) Back ache: Capricorn signifies whole bone structure, spinal cord, back etc. Capricorn holds weak Guru. Lord of Capricorn, Shani is afflicted due to presence of 8th Lord Budh with him. In Chalit Kundli, Shani occupies 12th house.

Considering all the situations it is inferred that possibility for the sexual disorders is the most likely outcome. Hence, option C is correct.

ऑप्शन (C) - गुप्त रोग सही उत्तर क्यों है?

जातिका का जन्म वृश्चिक लग्न और मकर नवांश में हुआ। लग्नेश द्वादश भाव में केतू के साथ है। लग्नेश मंगल, राहु के नक्षत्र और शुक्र की राशि में है। सबसे बड़ा संकेत तो इन्हीं ग्रहीय स्थितियों से मिल जाता है। जातिका की लग्न वॄश्चिक है और वृश्चिक राशि काल पुरुष की कुण्डली में अष्टम भाव को प्रदर्शित करती है। अष्टम भाव से भी गुप्त रोगों का विचार किया जाता है, साथ ही लग्नेश मंगल तुला राशि में है और तुला राशि काल पुरुष की कुण्डली में सप्तम भाव को प्रदर्शित करती हैI अत: इस राशि की स्थिति से भी दाम्पत्य जीवन और गुप्त रोगों के बारे में विचार किया जाता है।

मंगल राहु के नक्षत्र में है, राहु को रहस्यमय बीमारियों और गुप्त रोगों के बारे में विचारणीय माना गया है। इस कुण्डली में शुक्र है और भारतीय ज्योतिष में शुक्र से दाम्पत्य जीवन और गुप्त रोगों का विचार किया जाता है। शनि ग्रह लग्न और सप्तम दोनों भावों को पीड़ित कर रहा है, अत: यह कुण्डली, जातिका को गुप्त रोग होने का प्रबल संकेत कर रही है।

आइए अब उस समय की दशाओं पर विचार कर लिया जाय। मार्च 2007 से जातिका पर केतु में मंगल की दशा का प्रभाव शुरू हुआ। दोनों ही बारहवें भाव यानी कि हास्पिटल के भाव में हैं, अत: जातिका का संबंध हास्पिटल से होने का संकेत मिल रहा है। दोनो ही ग्रह राहु के नक्षत्र में हैं और राहु कुण्डली के छठे भाव अर्थात रोग स्थान में है।

तत्पश्चात, अगस्त 2007 से जातिका पर केतु में राहु की दशा का प्रभाव शुरू हुआ। रोग स्थान में बैठे हुए राहु ने जातिका को और भी परेशान किया। सितम्बर 2011 तक केतु की दशा का प्रभाव रहा और जातिका की स्थिति में दवाओं का विशेष प्रभाव नहीं दिखा। हालांकि शुक्र की दशा में स्थिति कुछ बेहतर हुई है लेकिन जातिका अभी भी पूर्ण रूपेण स्वस्थ नहीं हुई है। सम्भवत: इसके पीछे लग्न और सप्तम को प्रभावित करने वाले शनि का प्रभाव हो सकता है क्योंकि शनि को रोगों को जटिल बनाने वाला कहा गया है।

जिन लोगों का उत्तर सहीं नहीं हुआ उन्हें निराश होने की जरूरत नहीं है। पुन: प्रयास करें और क्विज १५ में भाग लें, मेहनत जरूर रंग लाएगी। आशा है आप सभी बिना निराश हुए अगले प्रश्न का सही उत्तर देंगे। क्विज १४ में भाग लेने के लिए आप सभी लोगों का एस्ट्रोसेज परिवार की ओर से बहुत बहुत धन्यवाद।

एस्ट्रोसेज परिवार सभी हिस्सेदारों और विजेताओं को मुबारकबाद देता है। यदि आपका नाम विजेताओं की सूचि से छूट गया है तो हमे बताएं, हम वह सूचि पुनः तैयार करेंगे। यह सभी नाम अपनी जगह "ऎस्ट्रोसेज क्विज़: हॉल ऑफ़ फ़ेम" में बनाएँगे। यदि आपका खाका एस्ट्रोसेज ऑनलाईन डायरेक्टरी पर है तो हमे बताएं। हम आपके खाके को आपके नाम के साथ जोड़ देंगे।

क्या आपने यह मौका गवा दियाअ? डरिये मत, आपके लिए प्रस्तुत है क्विज-१५ तो अपना भविष्य आज़माइए!

Astrology Quiz Articles

Astrological services for accurate answers and better feature

50% off

Get AstroSage Year Book with 50% discount

Buy AstroSage Year Book at Best Price.

Big Horoscope
What will you get in 100+ pages Big Horoscope.
Finance
Are money matters a reason for the dark-circles under your eyes?
Ask A Question
Is there any question or problem lingering.
Career / Job
Worried about your career? don't know what is.
Love
Will you be able to rekindle with your lost love?
Health & Fitness
It is said that health is the real wealth. If you are not

Astrological remedies to get rid of your problems

Red Coral / Moonga
(3 Carat)

Get the Best Results of Your Deeds with this Combo.

Gemstones
Buy Genuine Gemstones at Best Prices.
Yantras
Energised Yantras for You.
Rudraksha
Original Rudraksha to Bless Your Way.
Feng Shui
Bring Good Luck to your Place with Feng Shui.
Mala
Praise the Lord with Divine Energies of Mala.
Jadi (Tree Roots)
Keep Your Place Holy with Jadi.

Buy Your Big Horoscope

100+ pages @ Rs. 650/-

Big horoscope

AstroSage on MobileAll Mobile Apps

AstroSage TVSubscribe

Buy Gemstones

Best quality gemstones with assurance of AstroSage.com

Buy Yantras

Take advantage of Yantra with assurance of AstroSage.com

Buy Feng Shui

Bring Good Luck to your Place with Feng Shui.from AstroSage.com

Buy Rudraksh

Best quality Rudraksh with assurance of AstroSage.com

Reports