मिथुन राशिफल

दैनिक हिन्दी राशिफल (मिथुन राशि) / Mithun Rashifal

Thursday, July 19, 2018
आज के रोज़ जो भावुक मिज़ाज आप पर छाया हुआ है, उससे निकलने के लिए बीती बातों को दिल से निकाल दीजिए। फ़ौरी तौर पर मज़े लेने की अपनी प्रवृत्ति पर क़ाबू रखें और मनोरंजन पर ज़रूरत से ज़्यादा ख़र्च करने से बचें। आज आपको अपने होशियारी और प्रभाव का उपयोग संवेदनशील घरेलू मुद्दों को हल करने के लिए करना चाहिए। विवादित मुद्दों को उठाने से बचें, अगर आप आज ‘डेट’ पर जा रहे हैं तो। कामकाज के मामलों को सुलझाने के लिए अपनी होशियारी और प्रभाव का इस्तेमाल करें। आज के दिन आपकी योजनाओं में आख़िरी पल में बदलाव हो सकते हैं। आपके जीवनसाथी की ओर से मिला कोई ख़ास तोहफ़ा आपके खिन्न मन को ख़ुश करने में काफ़ी मददगार साबित होगा।
उपाय :- रात को पाने में जौ भिगोकर रखें व अगली सुबह किसी जानवर या पक्षियों को खिलाने से हेल्थ अच्छी रहेगी।

आज का दिन

स्वास्थ्य:
धन-सम्पत्ति:
परिवार:
प्रेम आदि:
व्यवसाय:
वैवाहिक जीवन:

मिथुन दैनिक राशिफल आपको अपने नियमित कार्यों के बारे में जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा। यदि आपकी राशि मिथुन है, या यूँ कहें कि आप मिथुन राशि के जातक हैं, तो आपको इस मिथुन राशिफल के द्वारा आपकी ज़िन्दगी से जुड़ी किसी भी घटना के होने से पहले निर्देशित किया जाएगा, जिससे आप किसी तरह की परेशानी में न फसें और अपनी असफलता को सफलता में बदल सकें। क्यूंकि यदि हमें किसी भी बुरे घटना के बारे में कोई जानकारी हो जाये, तो शायद हम खुद को पहले ही सावधान कर सकते हैं ताकि उस घटना के कारण किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचे। मिथुन राशिफल का विश्लेषण करने के लिए पहले मिथुन राशि के बारे में समझें:

मिथुन- राशि चिन्ह

मिथुन, राशि चक्र का तीसरा ज्योतिषीय चिह्न है। इस राशि का प्रतिक चिन्ह जुड़ुवा होता है जो यह दर्शाता है कि ये जातक आकर्षक और दोस्ताना होते हैं। यह राशि राशि चक्र का 60-90 डिग्री होता है। इस राशि का स्वामी ग्रह “बुध” हैं। बुध को वाणी और बुद्धि का कारक माना जाता है इसीलिए मिथुन लग्न में जन्म लिए जातक बुद्धिमान और वाक्पटु होते हैं। इस राशि के जातक बहुत अधिक बोलते हैं। जब चंद्रमा मिथुन राशि पर चलता है, तो उस समय पैदा हुए व्यक्ति की राशि मिथुन होती है। जुड़वां इनका प्रतीक चिन्ह है अत: इन लोगों का दोहरा व्यवहार भी देखने को मिलता है।

मिथुन- शारीरिक बनावट

  • मिथुन राशि के जातक का कद औसत से ऊँचा होता है।
  • इनका शरीर छरहरा और रंग हल्का दबा हुआ होता है।
  • इस राशि के जातक की आँखें तेज़, बाल हलके, नाक पतली, ठोढ़ी नुकिली और बाहें लम्बी होती हैं।
  • इन लोगों कि अभिव्यक्ति यह बता देती हैं कि स्थिति इनके नियंत्रण में और आरामदायक है।
  • इस राशि के लोग मुखर हो कर बोलते हैं।
  • मेष राशि के लोगों की मांसपेशियां कोमल और पतली होती हैं। इनके हाथ-पैर मॉडल की तरह लंबे होते हैं।
  • इन लोगों कि उपस्थिति सुंदरता एवं तेज़ी प्रदान करती हैं। ये लोग नियंत्रित और शांतचित्त शैली में रहना पसंद करते हैं।
  • मिथुन राशि वाले व्यक्तियों के हाथ की बनावट त्रिकोणाकृति होती है।
  • इस राशि वाली स्त्री अपने हाथ के संकेत मात्र से ही किसी पुरुष को अपनी ओर आकर्षित करने की क्षमता रखती हैं।
  • इन लोगों के चेहरे पर तिल का निशान होता है या पेट, कान और हाथ पर तिल या फिर मस्सा जन्म से ही रहता है।

मिथुन- व्यक्तित्व

यह राशि चंचल प्रकृति वाली होती है, जिनमें उत्सुकता, प्रश्नेच्छा और भ्रमणशीलता का आधिपत्य देखने को मिलता है। मिथुन राशि के व्यक्ति अस्थिर स्वभाव के लेकिन आकर्षक व्यक्तित्व एवं चरित्र के होते हैं। उन्हें हर दिन नए परिवर्तन, भ्रमण और विविधता प्रिय होती है।मिथुन राशि के जातक बेहद हाजिर जवाब और फ़ुर्तीले होते हैं। इन लोगों की जिज्ञासु प्रवृत्ति और चतुराई इनको सामाजिक समारोहों और किसी भी पार्टी में आकर्षण का केन्द्र बना देती हैं। ये लोग न केवल अच्छे वक्ता होते हैं बल्कि अच्छे श्रोता भी होते हैं।

मिथुन राशि के व्यक्ति राजनीति में चतुर होते हैं। ये दयावान, दृढ़ संकल्पी और धार्मिक रहते हैं। आध्यात्मिक तत्वों की मदद से आत्मोन्नति की ओर ये विशेष ध्यान लगाते हैं। इस राशि के लोग सबके साथ एक समान व्यवहार रखते हैं। ये बेहद ईमानदार, सभ्य, चरित्रवान और सहनशील भी होते हैं। इनका हर काम अच्छे से सोचने-विचार करने के बाद होता है। मिथुन राशि का व्यक्ति अगर एक बार किसी को वचन दे दे या किसी चीज़ की संकल्प ले तो वे उसे निभाते हैं। ये लोग अपने उत्तरदायित्व को अच्छी तरह से निभाना अपना फर्ज मानते हैं।

मिथुन राशि वाले लोगों को झूठ बोलने वालों और झूठी शान दिखने वालों से अकड़ने वालों से नफरत होती है। इनका प्रधान गुण स्वच्छता और व्यवस्था रहता है। ये लोग गंभीर-चिंतन नहीं कर पाते हैं। हर समय हंसते रहना और हर बात को मजाक में लेना इनका प्रमुख लक्षण है।

मिथुन राशि के व्यक्ति चंचल स्वभाव तथा कलात्मक रुचि वाले होते हैं। इस राशि के लोग दोहरा जीवन-यापन करते हैं। जिसकी वजह से दूसरे लोग इन्हें समझ नहीं पाते हैं। मिथुन राशि वाले परिस्थिति के अनुसार अपने व्यवहार को बदलते रहते हैं, इसीलिए इनके सच्चे रूप को पहचान पाना आसान नहीं होता है।

मिथुन राशि में जन्म लिए जातक बहुमुखी होते हैं। काम के विषय में इनका विचार सुलझा हुआ होता है। काम करने के अपने नए तरीकों के चलते ये बहुत ही जल्द किसी भी टीम का हिस्सा बन जाते हैं। इनके बातचीत करने का तरीका और खुला विचार इनकी सबसे बड़ी क्षमता होती है।

इस राशि के जातक में ध्यानाकर्षण का विशिष्ट गुण होता है। ये लोग अक्सर दूसरों को उत्साह और उपदेश देने लगते हैं, जिसकी वजह से उन्हें खुद उपहास का पात्र बनना पड़ता है। इन्हें जिन विषयों की जानकारी नहीं भी होती उनपर भी ये उचित रूप से बोला करते हैं। इस राशि के जातक विश्वास, आदर और प्रसिद्धि पाना चाहते हैं।

मिथुन- रुचियाँ/शौक

मिथुन राशि वालों को घूमना-फिरना, गायन, सिलाई करना, सिनेमा देखना, किताबें पढ़ना आदि जैसी कलात्मक चीज़ों का शौक रहता है। ये एक समय में बहुत कुछ जानने की इच्छा रखते हैं। इस राशि के जातक लोगों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करना चाहते हैं, लेकिन वैसा होते ही इनकी रुचि उस व्यक्ति या वस्तु से समाप्त हो जाती है।

मिथुन- कमियां

  • मिथुन राशि के लोग साहस-प्रिय नहीं होते हैं।
  • इनको ढोंग और आडम्बर जैसी चीज़ें अधिक रुचिकर होते हैं।
  • इस राशि के लोग किसी भी काम में तुरंत हाथ डाल देते हैं लेकिन खुद भ्रम में पड़कर काम को अधूरा छोड़ हाथ पीछे खींच लेते हैं।
  • मिथुन राशि के व्यक्ति अधिक विश्वसनीय नहीं होते हैं। अपने अस्थिर और चंचल स्वभाव के कारण वे कब क्या कर बैठें, इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है।
  • इन्हें एक समय में एक से अधिक प्रेम संबंध बनाने की इच्छा रहती है, जिसकी वजह से इनका सभी प्रेम असफल सिद्ध होता है।
  • इस राशि के लोग अपने विपरीत लिंग की ओर अधिक रुझान रख विपत्तियों को खुद ही निमंत्रित किया करते हैं।
  • मिथुन राशि के लोग अपना मूल्य नहीं आंकते और स्वयं को किसी के सामने भी समर्पित कर देते हैं।
  • इस राशि के लोग सनक पैदा करने वाले होते हैं।
  • इन कमियों को दूर करने के लिए हिन्दू पद्धति में मिथुन राशि के जातकों के लिए कुछ उपाय बताये गए हैं- जैसे मंगल या शनिवार का उपवास रखें, मूंगा पहनें, संकष्टी चतुर्थी का व्रत करें या फिर सुंदर कांड का पाठ पढ़ें।
  • अपनी कमियों से बचने और इनमें सुधर लाने के लिए इन्हें गायत्री जाप करना चाहिए या फिर अपने इष्ट देवता या गुरु की उपासना करनी चाहिए।
  • इस राशि में राहु होने से राहु का फल हमेशा सबसे श्रेष्ठ ही मिलेगा।

मिथुन- आर्थिक पक्ष

मिथुन राशि के जातक विद्वान होने के बावजूद भी धन संपत्ति के मामले में कमजोर होते हैं, लेकिन मृत्यु के समय ये ऋण रहित स्थिति में होते हैं।

मिथुन- शिक्षा एवं व्यवसाय

मिथुन राशि के लोग यांत्रिकी विषयों में शिक्षा प्राप्त करें तो उन्हें अधिक सफलता मिलती है। मिथुन राशि वाला व्यक्ति केवल एक विषय का विशेषज्ञ नहीं होता, उसे अनेक विषयों पर थोड़ी-थोड़ी जानकारी होती है। इस राशि के जातकों को अलग-अलग विषयों का अध्ययन करना काफी पसंद होता है।

मिथुन राशि के लोगों के लिए वैसा कार्य जिससे इनकी बुद्धि प्रोत्साहित हो और नए लोगों से संवाद स्थापित करने की संभावना प्रदान करे, इनके लिए बहुत उपयुक्त रहेंगे। इस राशि के व्यक्तियों को विविधता, परिवर्तन, यात्रा और विचारों के आदान-प्रदान पसंद होता है। इनमें एक समय पर कई कार्य करने की क्षमता होती है।

मिथुन राशि के लोग व्यवसाय के बजाय केवल नौकरी में ही सफल हो सकते हैं। इसीलिए यदि ये व्यवसाय करें तो किसी के साथ साझीदारी के साथ करें या फिर अपने किसी परिजन के नाम से करें अन्यथा इन्हें मनचाही सफलता नहीं मिलती है।

मिथुन- प्रेम संबंध

  • मिथुन राशि को कला से जुड़े लोग जैसे- कलाकार, लेखक, संगीतकार आदि अपनी ओर जल्दी आकर्षित करते हैं।
  • मिथुन राशि वाले जातकों को असाध्य प्रेमी भी कह सकते हैं। इनके लिए एकपक्षीय आकर्षण हमेशा कष्टकारक होता है।
  • इस राशि के जातक अपने रिश्ते को लेकर सर्वाधिक चिंतित रहते हैं।
  • प्रेम में असफलता का मूल कारण इनका कभी-कभी लापरवाह होना होता है।
  • मिथुन राशि कभी भी अपना मूल्य नहीं आंकती। ये स्वयं को किसी भी पक्ष के सामने समर्पित कर देते हैं।
  • शारीरिक सुख के लिहाज़ से मिथुन राशि वालों को तुला राशि के लोग आकर्षित करते हैं।
  • मिथुन राशि को मेष तथा मकर राशि भी एक सीमा तक आकर्षित करती है, लेकिन मकर राशि में शनि होने के कारण इनके रिश्ते में शंका अधिक होती है।
  • तुला के साथ इनका व्यवहार एक सुधारक की तरह होता है, लेकिन तुला और कुंभ राशियां इन्हें अक्सर शंकालु बनाकर भ्रम में डाल देती हैं।

मिथुन- विवाह और दांपत्य जीवन

मिथुन राशि एक से अधिक प्रेम संबंध करने की इच्छुक रहती है, जिसके कारण प्रत्येक प्रेम असफल सिद्ध होता है। ऐसा नहीं कि वे अपने पत्नी अथवा पति या प्रेमी अथवा प्रेमिका को प्रसन्न नहीं देखना चाहते हैं, लेकिन दूसरी तरफ वे औरो की ओर भी आकर्षित रहते हैं। ये स्वयं निष्ठावान नहीं होते, लेकिन अपने साथी की निष्ठा को प्राप्त करने का प्रयास करते हैं। यदि मिथुन राशि वाला पति समय पर घर नहीं पहुंचे, तो पत्नी को धैर्य से काम लेना चाहिए तभी पत्नी उसे वश में रख सकती है।

मिथुन- घर-परिवार

मिथुन राशि वाले लोग रिश्तेदार और अन्य लोगों की भलाई तो करते हैं, लेकिन उसका बुरा परिणाम ही इन्हें मिलता है। जीवन में इन्हें घर का मकान, या कोई भी सौभाग्यशाली वस्तु अवश्य प्राप्त होती है। इस राशि के लोगों के लिए माता-पिता, पत्नी, सास और भाई में से कोई भी एक व्यक्ति दुख का कारक बनता है। इन्हें जीवन में पुत्र और पौत्रों को देखने का योग प्राप्त होता है। इस राशि के लोगों के लिए जिस मकान का मुख्य द्वार उत्तर, पूर्व दिशा में हो और रहने का स्थान ऊपरी मंजिल पर हो, तो वह इनके लिए शुभ रहता है।

मिथुन- इष्ट मित्र

  • वृषभ, कन्या, सिंह, तुला वाले राषि वालों के साथ इनकी मित्रता रहती है और ये सहयोगी बने रहते हैं।
  • कर्क राशि वालों से इन्हें सावधान रहना चाहिए।
  • कभी-कभी मिथुन राशि के मित्र भी शत्रु बन जाते हैं, इसीलिए इन्हें हमेशा ही सावधानी से चलना चाहिए।
  • मिथुन राशि के जातक मेष राशि वालों को सदैव खुश और सुखी रखते हैं।
  • मिथुन राशि वाले का कन्या और मीन राशि के साथ विरोध रहता है।
  • कर्क, वृश्चिक और मकर राशियों के साथ मिथुन राशि के लोग उदासीन रहते हैं।

मिथुन- स्वास्थ्य और खान-पान

मिथुन राशि का जातक देखने में तो पुष्ट रहता है, लेकिन इनका स्वास्थ्य मध्यम ही रहता है।

इस राशि के जातक बहुत क्रियाशील होते हैं और जल्द ही अनिद्रा के शिकार हो जाते हैं। इसीलिए इन्हे अपने खाने-पीने के साथ-साथ नींद का भी ध्यान रखना चाहिए। इन्हें बचपन में श्वास सबंधी समस्या जैसे अस्थमा आदि से परेशानी रह सकती है। उम्र के साथ इन्हे फ़्लू या फिर वाइरल संक्रमण हो सकता हैं। मिथुन राशि के लोग बड़े नाजुक मिजाज़ के होते हैं लेकिन इन्हें कोइ खास बीमारी नहीं होती है। इस राशि के जातकों को जीवन में मानसिक श्रम अधिक करना पड़ता है। इनको छाती में दर्द और हृदय में विकार से खतरा बना रहता है।

खान-पान की बात करें तो ऐसे लोगों को रात का भोजन नहीं करना लाभदायक रहता है। स्वस्थ के लिहाज़ सेव त्रिफला चूर्ण या सोंठ, अदरक और तुलसी का काढ़ा बेहद उपयोगी रहता है। इन्हे ऎसे खाद्य पदार्थ की जरूरत होती हैं जो इनके फ़ेफ़ड़ो और स्नायु संस्थान को मजबूत रखे। टमाटर, पालक, फलियां, आलूबुखारा, फूलगोभी, गेंहू, नारियल, गाजर, संतरा, खुबानी आदि इनके लिए फायदेमंद रहती हैं। इस राशि के लोगों को कैफ़िन युक्त पेय पदार्थ जैसे कि चाय-काफ़ी और कार्बोनेटेड पेय पदार्थो से दूरी बना कर रखनी चाहिए। दिमाग और स्नायु तंत्र के लगातार काम करने के कारण इन्हे दिमाग को लाभ पंहुचाने वाले खुराका की आवश्यकता होती हैं जैसे मछली,एवोकेडो और अखरोट में पाए जाने वाले ओमेगा-3 फ़ैटी एसिड का सेवन इनके दिमाग के लिए फायदेमंद रहता है।

मिथुन- भाग्यशाली अंक

5 का अंक मिथुन राशि के जातकों के लिए भाग्यशाली होता है। इसीलिए 5 अंक की श्रृंखला 5, 14, 23, 38, 41, 68... इनके लिए शुभ होती है।

मिथुन- भाग्यशाली रंग

अगर रंग की बात करें तो मिथुन राशि वालों के लिए पीला और केसरिया रंग भाग्यशाली रंग होता है। इन रंग के वस्त्र पहनने से मानसिक शांति रहती है। मिथुन राशि वाले लोगों के लिए जेब में हमेशा पीला रूमाल रखना बहुत फायदेमंद होता है। पीले रंग को अपने कपड़ों में किसी न किसी रूप में अवश्य रखें।

मिथुन- भाग्यशाली दिन

मिथुन राशि का “बुध ” ग्रह से बहुत ही निकट संबंध होता है, इसीलिए “बुधवार” इस राशि के जातकों का भाग्यशाली दिन होता है। इसके साथ ही गुरुवार इनके लिए शुभ और सोमवार का दिन “अशुभ” होता है। जिस दिन मिथुन राशि का चंद्रमा हो, उस दिन इन्हें किसी भी महत्वपूर्ण काम को शुरू नहीं करना चाहिए।

मिथुन- भाग्यशाली रत्न

मिथुन राशि वाले लोगों के लिए “पन्ना” भाग्यशाली रत्न होता है। इसीलिए बुध खराब रहने पर इन्हें पन्ना पहनना चाहिए। आप पन्ना रत्न को चांदी में जड़वाकर पहन सकते हैं। मिथुन राशि वाले यदि पन्ना को बुधवार के दिन शुभ मुहूर्त में बुधदेव की उपासना के बाद धारण करें तो यह अधिक लाभप्रद रहता है। यदि जातक को अधिक तकलीफ हो तो वे मंगलवार का उपवास रख सकते हैं और इसी दिन तांबे में जड़ा हुआ मूंगा रत्न धारण कर सकते हैं।

ऊपर हमने मिथुन राशिफल और मिथुन राशि के जातकों से जुड़ी शारीरिक बनावट, व्यक्तित्व, शौक, कमियां, खूबियां, परिवार, प्रेम संबंध जैसे सभी पहलुओं को अच्छे से जाना। आशा करते हैं कि एस्ट्रोसेज द्वारा दी गयी जानकारी आपको मिथुन राशि के लोगों को समझने में मददगार सिद्ध होगी।

एस्ट्रोसेज मोबाइल पर सभी मोबाइल ऍप्स

एस्ट्रोसेज टीवी सब्सक्राइब

ज्योतिष पत्रिका

रत्न खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रत्न, लैब सर्टिफिकेट के साथ बेचता है।

यन्त्र खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम के विश्वास के साथ यंत्र का लाभ उठाएँ।

फेंगशुई खरीदें

एस्ट्रोसेज पर पाएँ विश्वसनीय और चमत्कारिक फेंगशुई उत्पाद

रूद्राक्ष खरीदें

एस्ट्रोसेज डॉट कॉम से सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता वाले रुद्राक्ष, लैब सर्टिफिकेट के साथ प्राप्त करें।